वेस्टइंडीज सेक्सी एचडी

शुभम नावाचे फोटो मराठी

शुभम नावाचे फोटो मराठी, वह उसे थोड़ी ना कह सकता था की तुम्हारी माँ और उसकी सहेली ने उसका यह हाल किया है। वह फ़्रेश होने बाथरूम में गया और जब बाहर आया तो मालिनी वहाँ बिस्तर पर बैठी थी। वह चड्डी के ऊपर से उसके लौड़े को दबाते हुए बोली: पहले खाना खाएँगे कि यह चूसवाएँगे ? सरला ने भी सब सामान चेक किया और मुस्कुराकर फूलों को फ्रिज में रख दिया ताकि मुरझा ना जाएँ। उसने गुलाब की पंखड़िया मँगाई थीं । अचानक उसको अपने बुर में ज़ोर की खुजाल मची और वो बुर को खुजा कर सोची कि चल तेरी प्यास आज तेरे से बाहर निकला तेरा बेटा ही बुझाएगा।

वो फिर से बोला: देखोगी ना हमारी चुदाई? मैं ऐसा करता हूँ कि जब तुमको बुलाना होगा तो मैं तुमको एक मिस्ड कॉल दूँगा। तुम समझ जाना कि तुम्हारे लिए मेरा शो चालु हो गया है। बोलो आओगी ना? अब वह उसकी गाँड़ मसलता हुआ उसके गाल भी चूमने लगा। मालिनी हैरान होकर: ओह्ह्ह्ह्ह आप क्या कहते हो? आपकी बात तो घर की बात है मगर असलम तो बाहर का है ना? क्या मैं अब बाहर वालों से भी चुदवा लूँ?

उधर मालिनी आयशा के घर से निकली और क़रीब ६ बजे घर पहुँची। राजीव अपने कमरे में था और कुर्सी पर बैठ कर कुछ हिसाब देख रहा था । मालिनी को देखकर वो बोला: बेटा बड़ी देर लगा दी? उसने देखा कि मालिनी की आँखें थोड़ी लाल सी हो रही थी और वो थोड़ा सा अशांत सी दिख रही थी। वो फिर से बोला: बेटा सब ठीक है ना? शुभम नावाचे फोटो मराठी रेणु;अह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह जाआअनीउऊुउउ ओह बहुत मज़ा आआआआआआ रहा हाईईईईईईईईईईईईईईईई मेरिइईई चूत्त्त्त्त्त्त्त्त की सारी खुजली मिटा दूऊऊऊओ अपने काम रस्सस्स से मेरी चूत और्र्ररर बच्चेदानी को भर दूऊऊऊ अहह मुझीईए माँ और्र्ररर माआ कूऊऊऊ नानी बनन्नाआ दूऊव

পশ্চিমবঙ্গের সেক্স ভিডিও

  1. शिवा: पापा चुदाई मर्ज़ी से होनी चाहिए फिर चाहे घर वालों से हो या बाहर वालों से क्या फ़र्क़ पड़ता है। बस बदनामी नहीं होनी चाहिए।
  2. आख़िर रात हुई शोभा खाना बना चुकी थी तीनो बैठ कर खाना खा रहे थे तीनो चुप थे कोई कुछ नही बोल रहा था खाना ख़ान के बाद बबलू ऊपर छत पर घूमने आ गया और छत पर टहलने लगा थोड़ी देर बाद शोभा भी ऊपर आ गयी रात के 10 बजे चुके थे नंगी चूत दिखाइए
  3. डॉक्टर: बेटी बिना चेक अप के तो नहीं बता सकता। पर अगर वो स्वस्थ है तो जेनरली कोई समस्या नहीं होनी चाहिए। मेरा सुझाव है कि अभी और कोशिशें करो, भगवान फल देगा। कर्नल: अरे बेटी बहुत टाइट गाँड़ थी, लगता था कि उद्घाटन ही कर रहे हैं। लगता है दामाद बाबू का पतला सा हथियार है।
  4. शुभम नावाचे फोटो मराठी...अब शिवा मालिनी के ऊपर आकर उसकी ज़बरदस्त चुदाई किया क़रीब आधा घंटा और फिर दोनों थक कर सो गए।राजीव उनकी तरफ़ करवट लेकर लेटा हुआ उनकी चुदाई देख चुका था और बीच बीच में मालिनी की चूचि भी मसला था। शिवा ने अपना सिर पीट लिया। वो जानता था कि वो और उसका सच अब मालिनी के सामने नंगा होने वाला है। पापा कमीनेपन पर उतरे हुए थे।
  5. राजीव: नहीं बहु, मैं कभी रेप कर ही नहीं सकता वो अभी अपनी लाड़ली बहु का? ये कहते हुए उसने उसकी चूचि छोड़ दी। और बोला: लो बहु अब बराबर हो गया। दोनों चूचियाँ बराबर से दबा दीं। एक दिन बबलू को घर आते हुए रात के 10:30 बज गये जब शोभा ने गेट खोला तो बबलू शराब के नशे में धुत्त था बबलू अंदर आ गया और अपने कमरे में चला गया शोभा गेट बंद करके वापिस उसके रूम में आई

केसांना मेहंदी कशी लावायची

दोनों हँसने लगे। फिर वो उसकी गाँड़ से ऊँगली निकाला और पकककक से आवाज़ हुई और वो दोनों सफ़ाई करके बाहर आए।

फिर महक उठी और एक बार उसकी गाँड़ की दरार राजीव और शिवा की आँखों के सामने थीं। इस बार राजीव से रहा नहीं गया और वह बोला: बेटी, इस तरह की पैंट क्यों पहनती हो? पीछे से पूरी नंगी हो रही हो। रानी: तब तो मालिनी को भी इसका अंदाज़ा तो होगा ही कि उसकी माँ उसके ताया जी के साथ फँसी हुई है। और वो चुदाई के बारे में सब जानती होगी। वैसे भी उसका भरा हुआ बदन देखकर लगता है कि वो शायद चुदवा चुकी होगी।

शुभम नावाचे फोटो मराठी,वह फिर से उठकर अपने कमरे में चली गयी। रात को ८ बजे शिवा आया और मालिनी सोचती रही कि इनको बताऊँ क्या कि पापा मुझसे क्या चाहते हैं। फिर वह सोची कि घर में कितना बड़ा घमासान हो सकता है बाप बेटे के बीच में। वह अभी चुप ही रहना चाहती थी।

यह कहकर वो उसकी टांगों को उठाकर फैलाया और अपना मुँह ले जाकर चूमने लगा। मालिनी आऽऽऽहाह कर उठी। फिर वो उसकी बुर के छेद में अपनी जीभ डाला और उसे मस्ती से भरने लगा। मालिनी अब बेशर्मी से आऽऽऽऽऽऽह मरीइइइइइइइइइ चिल्लाने लगी।

मालिनी: ओके पापा मैं कोशिश करती हूँ। आप अभी खाना खाने आ जाओ। वो उसकी गोद से उठते हुए बोली। राजीव ने हाथ बढ़ाकर उसकी गाँड़ दबायी और बोला: ठीक है बेटा अभी आता हूँ।महिला सक्षमीकरण योजना

अब मैंने उसकी ब्रा के हुक खोले और उसकी ३४ साइज़ की चूचियाँ दबाने और चूसने लगा। वह मस्ती से आहबह्ह्ह्ह्ह्ह कर उठी। फिर मैंने उसके पेट को चूमते हुए उसकी गीली पैंटी उतारी और उसे सूँघने लगा। वह शर्माकर मेरी हरकत देख रही थी। सब ये सुनकर हँसने लगे। तभी राजीव बोला: जानती बहु ऐसे ही एक बार मैंने तुम्हारी मम्मी की गाँड़ में फ़ंसा हुआ पेटिकोट का कपड़ा निकाला था। वैसे तुम्हारी मम्मी की गाँड़ तो और भी बड़ी बड़ी है। मस्त माल है वो भी। शिवा तुम्हारी सास को भी यहाँ बुला लो ना। वह भी हमारी चुदाई में शामिल हो जाएगी।

शिवा: अब तुम्हारी लाल झंडी हरी हुई है तो गाड़ी तो दौड़ाएँगे ही जानू। फिर दोनों हंसने लगे। अब शिवा बाथरूम में जाकर नहाने लगा। मालिनी को पता नहीं क्या सूझा कि वो सीधे वो लिंगरी लेकर राजीव के कमरे में गयी और बोली: पापा देखो ये मेरे लिए क्या लाए हैं ?

पैंटी बहुत ही छोटी थी वी शेप पैंटी नीचे से बहुत ही पतली से पट्टी थी शोभा के गाल शरम के मारे लाल हो गये तभी उसका डोर खुला और बबलू अंदर आ गया शोभा हाथ में पैंटी पकड़े हुए थी,शुभम नावाचे फोटो मराठी राजीव ने उसको पकड़ लिया और उसको चूमते हुए बोला: बहुत तरसा रही हो। फिर उसकी चूचि दबाते हुए बोला : अब तो तेरी चूचियाँ बड़ी हो रही हैं। अब इनमे दूध आएगा ना बच्चा होने के बाद। मुझे भी पिलाओगी ना दूध?

News