श्वास घेताना छातीत दुखणे

बीएफ सेक्सी सुहाग

बीएफ सेक्सी सुहाग, तरुण ने झुक कर अपने हाथ अपनी टांगों के अंदर से निकाल कर अपने कान पकडे और दीपा से कहा, दीपा आप जबतक मुझे माफ़ नहीं करेंगे मैं यहां खुले आंगन में मुर्गा बना ही रहूँगा। मुझे प्लीज माफ़ कर दीजिये। रानी जब आयेगा मजा गांड मराई का , जब पटक पटक के अजय तुम्हारी सूखी गांड में पेलेंगे ने , खूब परपरायेगी। तब बताना अपनी भाभी को... चंदा भाभी बोली... वह चिपकी जा रही थी मेरे जीजू से.....

उसके हौसले बढ़ गए और मेरे बदन पर हाथ फेरता रहा और पीछे से चिपक गया, जिससे मैं गीला होने लगी। उसने मेरे आधे खुले ब्लाउज के साथ ही नीचे के बाकी सारे कपडे भी एक एक करके निकाल दिए। '' सेठानी जी, मेरा बांस तुम्हारी बांसुरी में हमेशा बजेगा जब तक दम में दम है; आप ऐसे क्यों बोलती है? मैंने उसे चूमते हुए पुचकारा.

मम्मी बिल्कुल नंगी बेड पर बैठी थी। पापा अपनी शर्ट के बटन खोल रहे थे, और मम्मी पापा की पैंट की बेल्ट खोल रही थी। जैसे ही सुमन पैंट को नीचे खिसकाती है, पापा का करीब इंच का लण्ड मम्मी अपने हाथों में पकड़ लेती हैं, और मुंह खोलकर लण्ड को मुँह में लेकर चूसना शुरु कर देती है। बीएफ सेक्सी सुहाग उस कम जगह और स्तिथि में जल्द ही मैं थकने लगी थी। उसने अब मुझे एक करवट पर सीट पर लेटा दिया था और अब अंदर बाहर धक्के मारने लगा।

बस में एक्स एक्स एक्स

  1. पायल: अब क्या फायदा कपडे का, सब तो दिख गया, नहीं चाहिए मुझे. अब तुम देखो, मैं तो तुम्हे कपडा लगाने ही नहीं दूंगी.
  2. सिर्फ दो मिनट बचे थे, तो उसके हाथ एकदम मशीन की भांति चलने लगे. इतने जोर के झटके लग रहे थे कि पायल के मोटे मम्मे बुरी तरह से हिल ढुल रहे थे जैसे भूकंप आ गया हो. बेटे ने मां को चोदा कहानी
  3. और कुछ देर में मेरी दीदी की चूत को बिना कुछ किये मेरी बहन झड़ने लगी, इतना तो मेरी दीदी चुदते समय भी नहीं झड़ थी। Ab is se jo kasar baki rah gayi thi, wo ami puri karne me lagi hai. Us ne pahle vaani didi ka raz fash kiya uske bad aniruddha ko bhi is me shamil karte huye use bhi duba diya.
  4. बीएफ सेक्सी सुहाग...और मैं वही किचन में डायनिंग टेबल पर बैठ गई, फिर भाभी ने मुझे कॉफी बना कर दी और हम वहीं डायनिंग टेबल पर ही बैठ कर उसने मुझसे कहा कि वो शॉर्ट्स को कमर से थोड़ा ऊपर उठाएगा। उसकी जो मनोस्तिथि थी, उसमे मैं नहीं चाहती थी कि वो मेरी स्किन जरा सी भी देखे।
  5. मैंने बात को आगे बढ़ाते हुए कहा, जब तरुण ने मुझे टीना की ऐसी आधी नंगी सेक्सी तस्वीरें देखते हुए पकड़ लिया तो मुझे बड़ी शर्मिंदगी हुयी। मैंने तरुण से माफ़ी मांगी। तब तरुण ने क्या कहा मालुम है? उसने मुझे अपने ऊपर से हटा लिया और मैंने तुरंत अपना मास्क नीचे खिसका कर चेहरे को फिर ढक लिया। अमित ने बिस्तर से उतर कर नया कंडोम पहन लिया।

बाप बेटी की बीएफ मूवी

अब मैंने लंड को अच्छे से बाहर तक निकाल निकाल कर वापिस चूत में पेलना शुरू किया तो उस छोकरी को भी मज़ा आने लगा और वो अपनी चूत उठा उठा कर मेरे लंड से लोहा लेने लगी. जल्दी ही चुदाई अपने शवाब पर आ गई और चूत लंड में घमासान मच गया. लंड अब बड़े मजे से गचागच, सटासट उसकी चूत में अन्दर बाहर होने लगा था.

मेरी रुपाली दीदी: प्लीज थोड़ा सा रुक जाओ न ,क्या कर...., नहीं करो न , लगता है ,... ओह्ह आहह , नहीं ई ई ई ई , मेरी सीधी सादी पत्नी की बात सुनकर मैं मन में हंसने लगा। एक तरफ वह तरुण की शिकायत कर रही थी, उस का सामना करने से डर रही थी तो दूसरी और उसकी हरकतों के लिए कारण ढूंढ रही थी, उसे बुलाने के लिए कह रही थी। यही तो प्यार और गुस्से का अद्भुत संयोग था।

बीएफ सेक्सी सुहाग,प्रिया- अच्छा, कहां पर? और प्रिया अपना हाथ आरोही की सलवार पर एकदम चूत के ऊपर रख देती है, जो इस वक़्त गीली हो चुकी थी- ओहह... तरी चूत तो गोली हो गईं। अब तुझे भी एक जोरदार लण्ड चाहिए, जो तेरी बेचेनी दूर करेंगा...

यह इस रंडी का दलाल है... सुरेश ने कहा... मेरी जितनी मिट्टी पलीत होनी थी वह तो हो चुकी थी.. मुझे कुछ बुरा नहीं लगा उसकी बात का... बल्कि मुझे अच्छा ही लगा कि वह मामले को संभालने की कोशिश कर रहा है...

सेठानी ने अपने पैर सीधे कर लिए थे और अब एड़ियों पर से उचक उचक कर मेरा लंड अपने चूत में दम से लील रही थी और मेरे धक्कों के साथ ताल में ताल मिलाती हुई अपनी जवानी मुझ पर लुटा रही थी.औरतों का सेक्सी वीडियो

पिछली बार जब कुछ महीने अपने पति से दूर थी तब जब भी वह मिलता मेरी कुशलक्षेम जरुर पूछता और मदद के लिए पूछता। मगर कभी उसे मदद का मौका नहीं दिया। दीपा तब तक काफी गरम हो चुकी थी। मेरी उंगली की हरकत से वह पलंग पर मचलने लगी थी। उसने बिना कुछ और सोचे कहा, ठीक है बाबा, आप जो कहोगे, मैं करुँगी। इस वक्त इधर उधर की बात मत करो। आप अब ऊपर आ जाओ और अपने इस कड़क लण्ड से मुझे चोदो प्लीज! मुझ से बर्दाश्त नहीं हो रहा।

इशारा पाकर में सेठानी के पास आया तो वह मुझे अपनी जाँघो पर चूतड़ को गोद में रख बैठने को कही । |. में फौरन बैठा-तो वह मेरे लाल सुपाड़े पर हाथ फेरती बोली-डरना | नहीं...पुरा पेलना....

आरोही अब विशाल से कुछ नहीं पूछती, और आरोही विशाल की तरफ से करवट बदलकर लेट जाती है। जिससे आरोही की गाण्ड विशाल की साइड हो जाती है और गाण्ड विशाल के लण्ड में मुश्किल में दो इंच के फासले पर थी। रूम में इस बढ़त बिल्कुल खामोशी छाई हुई थी।,बीएफ सेक्सी सुहाग बस फिर क्या था। तरुण दीपा को ऐसे जोर जोर से धक्के पेलने लगा की मुझे डर लग रहा था की कहीं वह मेरी पत्नी की चूत को फाड़ न दे। पर मेरी बीबी भी कोई कम थोड़ी ही थी। वह भी तरुण के नीचे अपने चूतड़ ऐसे उछाल रही थी जैसे उसपर कोई भूत सवार हो गया हो। तरुण का मोटा लण्ड तब उसे अद्भुत मीठा आनंद दे रहा था।

News