2021 की ब्लू फिल्में

सुभाषचंद्र बोस यांची माहिती

सुभाषचंद्र बोस यांची माहिती, क्या हुआ भइया…..??..अरे आप उनको लेकर क्यो परेशान हो रहे हो ,आपने तो कभी उनसे बात भी नही की है ,ना ही कभी अच्छे से मिले हो .. मैंने कहा यार शिप्रा दीदी आज आप बहुत ज्यादा सेक्सी लग रही हो इस सूट में वो मुस्कुराने लगी फिर मैंने कहा शिप्रा दीदी अंदर क्या पेहेन रखा है तो उन्होंने कहा चुप कर शैतान इंसान मैंने कहा दीदी बताओ ना प्लीज इस प्यारे सूट के नीचे क्या पेहेन रखा है आपने

दोनों पतियों की हांफती हुई साँसे और पत्नियोँ की दबी हुई कामुक कराहटों के उपरान्त उनकी योनियोँ के बारे बार रगड़ने और अंदर बाहर होनेसे होती हुई फच्च फच्च आवाज से बैडरूम गूंज रहा था। दूसरे दिन हमारा एग्जाम था मुझे पूरी सिक्युरिटी के साथ ले जाया गया था,मैं और निशा साथ ही गए,मेरे गार्ड ,रश्मि के गार्ड साला ऐसा लग रहा था जैसे की हम कोई VVIP है……

बंग्लॉ के मेन गेट से अंदर घुसते ही मुझे कुछ आवाज़े आने लग गयी थी जैसे कही घूंघुरू बज रहे हो तब्ब्ले पर थाप पड़ रही हो... सुभाषचंद्र बोस यांची माहिती priti214 - अरे तुम पे तो भरोसा है तभी तो तुम्हें सब कुछ करने देती हूँ ना जो तुम बोलते हो वो सब करती हूँ

हॉट माँ हद

  1. उन्होंने बिना कुछ कहे मुझे अपना मोबाइल थमा दिया ,लास्ट काल किसी अननोन नंबर से आया था ,उसकी काल रिकार्डिंग मौजूद थी ..
  2. हम लोगो को आया देख सब से पहले भाभी ने हम सबको पानी पिलाया और उसके बाद कॉफी का पुच्छ कर वापस चली गयी.... एचडी सेक्सी एचडी सेक्सी एचडी
  3. मैने रिसेप्षन पर फोन कर के सुहानी को यहाँ भेजने के लिए कहा....उसे गये हुए अभी ज़्यादा वक़्त नही हुआ था लेकिन में कुछ समझ नही पा रहा था कि उन लोगो को कैसे बताऊ. कमल ने कहा, अगर मैं कुमुद से कहूंगा तो पता नहीं, कुमुद मेरी बात मानेगी या नहीं। अगर राज कुमुद से बात करेगा तो ज्यादा अच्छा रहेगा। बेहतर यही है की तुम राज से अब यह सारी कहानी सुनाओ और उसे कहो की कुमुद को मेरे साथ अहमदाबाद आने के लिए मनाये। अब राज से यह बात छुपाने का कोई फायदा नहीं है।
  4. सुभाषचंद्र बोस यांची माहिती...सेठ जी, चावला के कत्ल का उद्देश्य तो आपके पास बहुत तगड़ा है । ऊपर से कत्ल के वक्त की आपके पास कोई | एलीबाई भी नहीं । raj2002 - वाव जान आई लव यू सो मच यार दबाओ ना जान इन्हें अपने हाथ से दबाओ ना अपने निप्पल पे ऊँगली फेरो ना जान
  5. कमल ने मुंबई में एक छोटा सा फ्लैट ख़रीदा था। राज सबेरे ही कमल के घर पहुँच गया और अपनी आवभगत देख कर खुश हुआ। कमल की बीबी कुमुद पहले से ही भजन कीर्तन में कुछ ज्यादा ही विश्वास रखती थी। उन्होंने एक छोटा पर खूबसूरत मन्दिर रसोई घर में ही सजा रखा था। कोमल--माँ अब में बकरिया तो चराती हूँ नही जो में आपको ये बोलू...अपनी सहेली के यहाँ गयी थी उसकी दादी से मिलने.

सेक्सी ब्लू पिक्चर बफ

उसके महल के पिछवाड़े वाले बड़े से गार्डन के बीचो बीचो एक हेलीपैड बना हुआ था जिसमे एक हेलीकॉप्टर खड़ा हुआ था,

वो उसे इमारत मे लाई और फिर वो उस बड़े कमरे मे पहुँचे जहाँ शीशे के बड़े बड़े बॉक्स मे रंगा-रंग मछलियाँ तैर रही थीं. हम दोनो ही चुप थे ,समीरा ने अपना कोर्ट उतार कर रख दिया ,उसके उजोरो अब शर्ट को फाड़कर बाहर आने को बेताब लग रहे थे..

सुभाषचंद्र बोस यांची माहिती,मिस्टर राज ! - दूसरी तरफ से आती जो जनाना आवाज मेरे कानों में पड़ी, वह ऐसी थी कि उसे सुनकर : कम-से-कम राज जैसा कोई पंजाबी पुत्तर बेडरूम की कल्पना किए बिना नहीं रह सकता था।

मतलब बुद्धू मैं इसे बना सकती हु ,हर मर्ज की दवा,जैसे तुम्हारे पिता ने मुझे बनाया था ,एकदम पर्सनल सेकेट्री वाला मटेरियल …

हां मेडम....ना वो किसी पागलपन मे घिरा है और ना ही पागल हैं. बस काली रूहे. आप उन्हें उस रूहों के बसेरा वाले जंगल मे क्यों जाने देती हैं?आगरा की सेक्सी फिल्म

ऐसा भी तो हो सकता है की हमला विवेक ने करवाया होगा और से रोकने के लिए ही विवेक को ही रास्ते से हटा दिया गया हो वो बुरी तरह से घबराई हुई थी और कांप रही थी मैंने उसका हाथ पकड़कर उसे बिस्तर में खीच लिया और अपने गोद में बिठा लिया मेरा लिंग सीधा उसके मख्खन जैसे नितंबो पर जा लगे लेकिन फिर भी वो हिली नही ..

मन प्रसन्न था ,दिल खुस था ,उमंगे भी जोरो में थी लेकिन हवस की नही बल्कि प्रेम की ,अभी अभी मैंने अपने अंदर के प्रेम को समझा था ,

और इसी के साथ हम लोग मुस्कुरा कर एक दूसरे से गले मिलते है और गुड नाइट बोलकर सोने लगते है...लेकिन नीरा को आज नही सोना था....वो बस सही समय का इंतजार कर रही थी .......,सुभाषचंद्र बोस यांची माहिती विकास गुर्राया ---- ये लंगडाहट इन मर्दों की मर्दानगी है की वजय से है ।। मुझे चारों तरफ से घेर कर मर्दानगी का परिचय दिया था इन्होंने ।। मैं जान भी ना सका कि मुझे किसने घेरा है कि इनकी गोलियां मेरे शरीर में धंस गई ।

News